मुख पृष्ठ हमारे बारे में संगठन संरचना संलग्न एवं अधीनस्थ कार्यालयों नमक आयुक्त का कार्यालय, जयपुर

नमक आयुक्त का कार्यालय, जयपुर

नमक आयुक्त के कार्यालय का मुख्यालय जयपुर में है और इसका अध्यक्ष नमक आयुक्त होता है जिसकी सहायता के लिए दो नमक सहायक आयुक्त तथा अन्य सहायक स्टॉ फ होते हैं। सभी नमक उत्पादन राज्यों में क्षेत्रीय कार्यालयों के अतिरिक्त चैन्नई, मुम्बई, अहमदाबादऔरजयपुर में इसके चार आंचलिक कार्यलय हैं । नमक संगठन नमक के उत्पादन, वितरणतथाआपूर्ति को प्रशासित करने के लिए उत्तरदायी है । यह संगठन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के राष्ट्रीय आयोडीन कमी नियंत्रण कार्यक्रम के तहत आयोडीकृत नमक के उत्पादन, वितरण तथा गुणवत्ता पर निगरानी हेतु नोडल एजेंसी है। संगठन के अन्य मुख्य कार्यों में मूल्य की निगरानी करना, तकनीकी विकास को बढ़ावा देना, मानकों का रखरखाव तथा नमक की गुणवत्ता में सुधार, विकासात्मकक एवं मजदूर कल्याणकारी योजनाओं की आयोजना, उन्हेंत तैयार करने एवं उनके क्रियान्वकयन की निगरानी, विभागीय नमक भूमि व अन्य संपत्तियों की सुरक्षाऔर पर्यवेक्षणकरना, निर्यात संवर्धन और जहाज पर लदान पूर्व निरीक्षण करना तथा प्राकृतिक आपदाओंसे प्रभावित नमक कर्मियों का पुनर्वास करना शामिल है।

नमक उपकर अधिनियम, 1953 :-

विधि और न्या य मंत्रालय (विधायी विभाग), नई दिल्लीो द्वारा दिनांक 14.52016 को भारत सरकार असाधारण,भाग-II खंड-1 में अधिसूचित वित्त् अधिनियम, 2016 के खंड 239 तथा 15वीं अनुसूची के अनुसार नमक उपकर अधिनियम सं. 49, 1953 को पूर्ण रूप से प्रतिस्थाीपित कर दिया गया है।

नमक उपकर अधिनियम, 1964 :-

नमक उपकर अधिनियम, 1953 के तहत बनाया गया 2001 में संशोधित नमक उपकर नियम, 1964 भी 14.05.2016 से स्वबत: प्रतिस्‍थापित हो गया है।

  • नमक उपकर अधिनियम, 1964 (4.37 MB)